Friday , July 19 2019
Breaking News
Home / अजब-गजब / डिजिटल टैक्स लगाने जा रहा है फ्रांस, जानिए क्या है मामला और कैसे होगा असर……!!

डिजिटल टैक्स लगाने जा रहा है फ्रांस, जानिए क्या है मामला और कैसे होगा असर……!!

पेरिस – फ्रांस के सांसदों ने 8 अप्रैल को फेसबुक और एपल जैसी डिजिटल दिग्गजों पर एक नए कर को मंजूरी दे दी है। वित्त मंत्री ब्रूनो ले मायरे ने दावा किया कि फ्रांस को इस तरह के कदम की अगुवाई करने पर गर्व महसूस हो रहा है। हालांकि, फ्रांस के इस कदम से संयुक्त राज्य अमेरिका नाराज हो गया है। अमेरिका ने अपने नाटो सहयोगी से इस योजना को छोड़ने का आग्रह किया है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने पिछले सप्ताह चेतावनी दी थी कि इससे अमेरिकी कंपनियों और उन प्लेटफार्मों का उपयोग करने वाले फ्रांसीसी नागरिकों, दोनों को नुकसान होगा !

नेशनल असेंबली में इस कदम को चार के खिलाफ 55 मतों के साथ मंजूरी दे दी गई, जबकि पांच सांसद अनुपस्थित थे। अब इसे कानून बनने से पहले सीनेट या उच्च सदन में मतदान करने के लिए रखा जाएगा। इस कानून को "गाफा" (गूगल, अमेजन, फेसबुक और एपल) नाम दिया गया है। यह विधेयक ऐसे समय में आया है, जब दुनिया की कुछ सबसे अमीर फर्मों द्वारा न्यूनतम भुगतान करने को लेकर सार्वजनिक नाराजगी है।

ले मायरे ने वोट से पहले संसद को बताया कि फ्रांस को इस तरह के विषयों पर अग्रणी होने पर गर्व महसूस हो रहा है। उन्होंने कहा कि यह मसौदा 21वीं सदी के लिए एक निष्पक्ष और अधिक कुशल कराधान की ओर कदम है। अमेरिका की आलोचना का जवाब देते हुए, ले मायरे ने कहा कि फ्रांस इस कानून को लागू करने के लिए "दृढ़" है और वह राजकोषीय मुद्दों पर "संप्रभु" होगा।

उन्होंने कहा कि यह "अस्वीकार्य" है कि डिजिटल मीडिया की दिग्गज कंपनियां यूजर्स के डेटा से काफी लाभ कमाएं और फ्रांस में होने वाले फायदे पर कर विदेशों में लगाया जाए। पिछले महीने फ्रांस ने डिजिटल विज्ञापन, किसी भी प्रौद्योगिकी कंपनी जो व्यक्तिगत डेटा की बिक्री और अन्य राजस्व से दुनिया भर में हर साल 75 करोड़ यूरो (84 करोड़ डॉलर) से अधिक कमाती है, उस पर तीन प्रतिशत कर लगाने के लिए मसौदे को पेश किया था।

आयरलैंड जैसे कम टैक्स वाले देशों द्वारा बड़ी तकनीकी फर्मों को लुभाने वाले यूरोपीय संघ के व्यापक प्रयास के बाद फ्रांस राष्ट्रीय स्तर पर कानून पर सहमति बनाने की मांग कर रहा है। मगर, ले मायरे ने जोर देकर कहा कि "लंबी अवधि में एक अच्छा समाधान, एक बहुपक्षीय समाधान होगा। उन्होंने कहा कि आर्थिक सहयोग और विकास संगठन के भीतर एक समझौते के प्रयासों को वह नहीं छोड़ेंगे।

Check Also

, डिजिटल टैक्स लगाने जा रहा है फ्रांस, जानिए क्या है मामला और कैसे होगा असर……!!

अमीर भी ले सकते हैं पीएम आवास योजना का लाभ, ऐसे करें अप्लाई….!!

अगर आप मकान खरीदने या बनाने की योजना बना रहे हैं तो ये खबर आपके …

Leave a Reply

Your email address will not be published.