Friday , July 19 2019
Breaking News
Home / देश-विदेश / राष्ट्रबोध रोजगार : भारतीय रेलवे में 2.98 लाख नई भर्तियां, गरीब सवर्णों को मिलेगा 10 प्रतिशत आरक्षण कोटे का लाभ….!!

राष्ट्रबोध रोजगार : भारतीय रेलवे में 2.98 लाख नई भर्तियां, गरीब सवर्णों को मिलेगा 10 प्रतिशत आरक्षण कोटे का लाभ….!!

नई दिल्ली – रोजगार का इंतजार कर रहे लाखों युवाओं के लिए यह खुशखबरी है. भारतीय रेलवे बहुत जल्द 2.98 लाख खाली पदों को भरने जा रहा है ! रोजगार सम्बंधित ये बड़ी बात लोकसभा में रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कही ! 10 जुलाई को रेलमंत्री ने सदन में बताया कि, 1 जून 2019 तक रेलवे में 2.98 लाख पद खाली हैं, जिन्हें जल्द भरा जाएगा. साथ में उन्होंने यह भी कहा कि पिछले एक दशक में रेलवे में 4.61 लाख लोगों को नौकरी लगी है !

1991 में रेलवे कर्मचारियों की कुल संख्या 1654985 थी, अब 2019 में यह संख्या 1248101 है. कर्मचारियों की संख्या करीब चार लाख घट गई है, इसके बावजूद रेलवे के परिचालन में किसी तरह की दिक्कत नहीं आई है. लिखित जवाब में पीयूष गोयल ने कहा कि रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड (RRB) और रेलवे रिक्रूटमेंट सेल्स (RRCs) की तरफ से इन खाली सीटों को भरा जाएगा. लिखित जवाब के मुताबिक कैटेगरी A, B, C और D में करीब 298574 सीटें खाली हैं !

बता दें, पिछले वित्त वर्ष (2018-19) में 1.5 लाख खाली पदों को भरने के लिए परीक्षा का आयोजन किया गया था. इस वित्त वर्ष में बाकी 1.4 लाख  खाली पदों को जल्द से जल्द भरा जाएगा. बता दें, अब जितनी भी वैकेंसी निकलेगी उसमें EWS कोटा का फायदा मिलेगा ! यानि 10 प्रतिशत आर्थिक आधार पर गरीब वर्ग को आरक्षण कोटे का लाभ मिलेगा !

ऐसी ही कई और ताजा ख़बरों को देखने के लिए कृपया यूट्यूब में हमारे चैनल rashtrabodh को भी देखिये और निशुल्क सब्सक्राइब भी कीजिये !
निचे दिए चैनल लिंक पर क्लिक करें –
https://www.youtube.com/channel/UCDjkFDU8g4ta3d_bBrsSk2w?view_as=subscriber  

राष्ट्रबोध,राष्ट्रीय हिंदी मासिक पत्रिका,
मुख्य संपादक –  पवन केसवानी 

Check Also

Railway, राष्ट्रबोध रोजगार : भारतीय रेलवे में 2.98 लाख नई भर्तियां, गरीब सवर्णों को मिलेगा 10 प्रतिशत आरक्षण कोटे का लाभ….!!

मायावती के भाई की 400 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति जब्त, कालेधन के विरुद्ध आयकर की बड़ी कर्रवाई….!!

जिन दिनों 2007 से 2012 तक उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती थी इसी दौरान उनके छोटे …