Friday , July 19 2019
Breaking News
Home / जीवन-शैली / सूर्य ग्रहण 2019: सूर्य ग्रहण के दौरान न करें ये 4 काम….!!

सूर्य ग्रहण 2019: सूर्य ग्रहण के दौरान न करें ये 4 काम….!!

नई दिल्‍ली – 2 जुलाई दुनिया के कुछ हिस्‍सो में पूर्ण सूय्र ग्रहण का नजारा दिखाई देगा ! यह साल 2019 का इकलौता पूर्ण सूर्य ग्रहण है. आषाढ़ महीने की अमावस्‍या  के दिन ग्रहण कुल पांच घंटे तक दिखाई देगा. भारतीय समयानुसार सूर्य ग्रहण 2 जुलाई की रात लगभग 10 बजकर 25 मिनट से शुरू होगा. इसके बाद 12 बजकर 53 मिनट पर ग्रहण का मध्‍य होगा और रात 3 बजकर 21 मिनट पर ग्रहण समाप्‍त हो जाएगा. वैसे तो सूर्य ग्रहण एक आकाशीय घटना है और इसके वैज्ञानिक कारण हैं लेकिन इसे लेकर कई तरह की धार्मिक मान्‍यताएं हैं. मान्‍यताओं के अनुसार ग्रहण काल में सूतक रहता है और इस दौरान कुछ काम नहीं करने चाहिए ! वहीं सूतक काल खत्‍म होने के बाद ग्रहण के दुष्‍प्रभाव को खत्‍म करने के लिए मान्‍यताओं के मुताबिक कुछ विशेष जतन करना फलदायी होता है !

सूर्य ग्रहण के दौरान क्‍या करें और क्‍या न करें
1. सूर्य ग्रहण के दौरान आसमान को नंगी आंखों से न देखें.
2. सूर्य ग्रहण को हमेशा सोलर फिल्टर वाले चश्मों से देखें. इस चश्मों को सोलर-व्युइंग ग्लासेस, पर्सनल सोलर फिल्टर्स या आइक्लिप्स ग्लासेस कहा जाता है.
3. ज्योतिषों और पंडितों की मानें तो ग्रहण के वक्त बाहर नहीं निकलना चाहिए. खासकर प्रेग्नेंट महिलाओं, बुज़ुर्गों, रोगी और बच्चों को बाहर नहीं जाना चाहिए.
4. ज्‍योतिष के अनुसार ग्रहण के दौरान खाना खाने और पकाने की भी मनाही है.

सूर्य ग्रहण के बाद क्‍या करें
1. मान्यता है कि ग्रहण के तुरंत बाद किसी भी काम को करने से पहले नहाना चाहिए. सिर्फ खुद को ही नहीं बल्कि घर के मंदिर में मौजूद सभी भगवानों की मूर्तियों को भी नहलाना या फिर गंगाजल छिड़कना चाहिए.
2. इसके बाद पूरे घर में धूप-बत्ती कर शुद्धीकरण किया जाना चाहिए.
3. ग्रहण के बाद घर में या बाहर मौजूद तुलसी के पौधे को भी गंगाजल डालकर स्वच्छ करना चाहिए.
4. मान्यता है कि ग्रहण के बाद मन की शुद्धी के लिए दान-पुण्य भी करना चाहिए.

वैसे यह पूर्ण सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा. ग्रहण के वक्‍त भारत में रात होगी इसलिए यहां इसका कोई प्रभाव नहीं होगा और न ही सूतक काल होगा. लेकिन फिर भी जो लोग विश्‍वास रखते हैं वे ग्रहण काल के बाद दान-दक्षिणा दे सकते हैं. आपको बता दें कि दक्षिण अमेरिका, प्रशांत महासागर, दक्षिण मध्‍य अमेरिका और अर्जेंटीना में 2 जुलाई को लगभग पांच घंटे के लिए पूर्ण सूर्य ग्रहण होगा !

Check Also

सूर्य ग्रहण, सूर्य ग्रहण 2019: सूर्य ग्रहण के दौरान न करें ये 4 काम….!!

क्यों आते हैं दिमाग में आत्महत्या के विचार, क्या है ये बीमारी और क्या हैं इसके लक्षण और इलाज….!!

नई दिल्ली – बाइपोलर डिस्‍आर्डर एक कॉम्प्लेक्स मानसिक बीमारी है, जिसमें रोगी का मन लगातार …

Leave a Reply

Your email address will not be published.